न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अमेठी
Published by: ishwar ashish
Updated Tue, 04 May 2021 05:21 PM IST

सार

जगदीशपुर के सीएचसी प्रभारी डॉ. एमके त्रिपाठी ने बताया कि दोनों गांव में महामारी जैसी कोई बात नहीं है। मरने वालों में अधिकतर की उम्र 50 वर्ष से ऊपर थी। यह लोग विभिन्न बीमारियों से ग्रसित थे जिसमें कुछ लोग बाहर से भी आए थे।

प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

अमेठी जिले के जगदीशपुर विकासखंड क्षेत्र के हारीमऊ और सिधियावां गांव में पिछले करीब 15 दिन के भीतर लगभग तीस लोगों की मौत होने से क्षेत्र के लोग दहशत में हैं। इनमें से करीब सभी लोग सर्दी-जुकाम व बुखार से पीडि़त थे। परिजनों के अनुसार इनकी कोविड जांच नहीं कराई गई थी। जगदीशपुर सीएचसी से हारीमऊ गांव की दूरी पांच किलोमीटर और सिधियावां की तीन किलोमीटर है। दोनों गांवों की आबादी भी करीब पांच-पांच हजार है।

पिछले 15 दिनों में दोनों गांवों में करीब 30 लोगों की मौत हो चुकी है। मरने वाले सभी लोगों में सर्दी, खांसी, जुकाम व बुखार के साथ ही सांस लेने जैसी दिक्कतें  थीं। मौत के बाद परिजनों द्वारा शवों का अंतिम संस्कार कर दिया गया। दोनों गांवों में एक के बाद एक की मौत होने से ग्रामीणों में दहशत है। हर कोई इन मौतों को कोरोना से जोड़कर देख रहा है।

जगदीशपुर के सीएचसी प्रभारी डॉ. एमके त्रिपाठी ने बताया कि दोनों गांव में महामारी जैसी कोई बात नहीं है। मरने वालों में अधिकतर की उम्र 50 वर्ष से ऊपर थी। यह लोग विभिन्न बीमारियों से ग्रसित थे जिसमें कुछ लोग बाहर से भी आए थे।

इनकी हो चुकी मौत
जगदीशपुर के सिधियांवा गांव निवासी मुस्सन (60), बब्बन (55), लल्लन (56), अहमदुल निशा (52), अंसार बेग (58), मुजीब (38), विश्वनाथ (42), बड़ागा (72), सज्जन (55), प्रवीन बानों (45), मतलूबुलनिशा (50), दयाराम (70) तथा हारीमऊ गांव में महफूज (50), नजमा (42), जाकिर (70) तथा इनकी एक बहू व एक अन्य सदस्य तौफीक (42), इददू की सत्तर वर्षीय पत्नी, चौरासा (92), शिवबरन (75), ताहिरल निशा (65), शोभन सरकार (45) समेत करीब 30 लोग शामिल हैं।

विस्तार

अमेठी जिले के जगदीशपुर विकासखंड क्षेत्र के हारीमऊ और सिधियावां गांव में पिछले करीब 15 दिन के भीतर लगभग तीस लोगों की मौत होने से क्षेत्र के लोग दहशत में हैं। इनमें से करीब सभी लोग सर्दी-जुकाम व बुखार से पीडि़त थे। परिजनों के अनुसार इनकी कोविड जांच नहीं कराई गई थी। जगदीशपुर सीएचसी से हारीमऊ गांव की दूरी पांच किलोमीटर और सिधियावां की तीन किलोमीटर है। दोनों गांवों की आबादी भी करीब पांच-पांच हजार है।

पिछले 15 दिनों में दोनों गांवों में करीब 30 लोगों की मौत हो चुकी है। मरने वाले सभी लोगों में सर्दी, खांसी, जुकाम व बुखार के साथ ही सांस लेने जैसी दिक्कतें  थीं। मौत के बाद परिजनों द्वारा शवों का अंतिम संस्कार कर दिया गया। दोनों गांवों में एक के बाद एक की मौत होने से ग्रामीणों में दहशत है। हर कोई इन मौतों को कोरोना से जोड़कर देख रहा है।

आगे पढ़ें

नहीं है महामारी जैसा माहौल : अधीक्षक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here