एजेंसी, वाशिंगटन
Published by: Kuldeep Singh
Updated Sat, 12 Jun 2021 01:41 AM IST

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

अमेरिकी सीनेट (उच्च सदन) ने पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक जाहिद कुरैशी के न्यूजर्सी में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नामांकन को मंजूरी दे दी है। इस तरह वे देश के इतिहास में पहले मुस्लिम संघीय न्यायाधीश बन गए हैं।

जाहिद कुरैशी के नाम पर 16 के मुकाबले मिले 81 वोट
सीनेट ने कुरैशी के नाम पर 16 के मुकाबले 81 मतों से मंजूरी दी। 34 रिपब्लिकन सांसदों ने भी पहले मुस्लिम-अमेरिकी को संघीय न्यायाधीश के तौर पर मंजूरी दी। फिलहाल कुरैशी डिस्ट्रिक्ट ऑफ न्यूजर्सी के लिए मजिस्ट्रेट हैं और वे उस वक्त इतिहास में अपना नाम दर्ज कराएंगे जब न्यूजर्सी के यूएस डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के न्यायाधीश के तौर पर शपथ लेंगे।

सीनेट की विदेश संबंध समिति के अध्यक्ष और सीनेटर रॉबर्ट मेनेंदेज ने मतदान से पहले कहा, न्यायाधीश कुरैशी ने हमारे देश की सेवा में अपना करियर समर्पित कर दिया और उनकी कहानी न्यूजर्सी की समृद्ध विविधता का प्रतीक है और अमेरिका के ऐसे स्थान होने का प्रतीक है जहां कुछ भी संभव है। बता दें कि न्यूजर्सी की अदालत में देश के सर्वाधिक मामले हैं और वहां 46,000 मुकदमे लंबित हैं।

विस्तार

अमेरिकी सीनेट (उच्च सदन) ने पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी नागरिक जाहिद कुरैशी के न्यूजर्सी में डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नामांकन को मंजूरी दे दी है। इस तरह वे देश के इतिहास में पहले मुस्लिम संघीय न्यायाधीश बन गए हैं।

जाहिद कुरैशी के नाम पर 16 के मुकाबले मिले 81 वोट

सीनेट ने कुरैशी के नाम पर 16 के मुकाबले 81 मतों से मंजूरी दी। 34 रिपब्लिकन सांसदों ने भी पहले मुस्लिम-अमेरिकी को संघीय न्यायाधीश के तौर पर मंजूरी दी। फिलहाल कुरैशी डिस्ट्रिक्ट ऑफ न्यूजर्सी के लिए मजिस्ट्रेट हैं और वे उस वक्त इतिहास में अपना नाम दर्ज कराएंगे जब न्यूजर्सी के यूएस डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के न्यायाधीश के तौर पर शपथ लेंगे।

सीनेट की विदेश संबंध समिति के अध्यक्ष और सीनेटर रॉबर्ट मेनेंदेज ने मतदान से पहले कहा, न्यायाधीश कुरैशी ने हमारे देश की सेवा में अपना करियर समर्पित कर दिया और उनकी कहानी न्यूजर्सी की समृद्ध विविधता का प्रतीक है और अमेरिका के ऐसे स्थान होने का प्रतीक है जहां कुछ भी संभव है। बता दें कि न्यूजर्सी की अदालत में देश के सर्वाधिक मामले हैं और वहां 46,000 मुकदमे लंबित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here