हेल्थ डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Abhilash Srivastava Updated Fri, 11 Jun 2021 12:33 PM IST

देश में कोरोना के कम होते आंकड़ों के बीच ऐसा लगने लगा था कि जिंदगी दोबारा सामान्य होने जा रही है। इसी दौरान म्यूकोरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) के मामलों ने लोगों में एक अलग तरह के भय और अराजकता की स्थिति पैदा कर दी। ब्लैक फंगस के मामले इतनी तेजी से बढ़े कि देखते ही देखते इसने महामारी का रूप ले लिया। हालिया रिपोर्टस के मुताबिक देश में फिलहाल 28000 से ज्यादा लोग ब्लैक फंगस संक्रमित हैं। कोरोना के गंभीर संक्रमण और ब्लैक फंगस के कारण फैले डर के बीच डॉक्टरों ने एक अन्य तरह के संक्रमण के बारे में लोगों को सचेत किया है। डॉक्टरों ने कोविड-19 के रोगी में हर्पीज सिंप्लेक्स वायरस (एचएसवी) के पहले मामले की पुष्टि की है। कोरोना के रोगियों में एचएसवी के मिले मामले ने स्वास्थ्य विभाग को एक बार फिर से अलर्ट कर दिया है। आइए इस लेख में जानते हैं कि आखिर यह हर्पीज सिंप्लेक्स वायरस है क्या? और कोरोना से इसका क्या संबंध हो सकता है? क्या यह भी ब्लैक फंगस की तरह गंभीर चिंता का कारक हो सकता है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here