न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: गौरव पाण्डेय
Updated Fri, 11 Jun 2021 04:13 PM IST

सार

केंद्र सरकार ने टीका बर्बादी को कम से कम करने के लिया टीकाकरण करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को कुछ सलाह दी हैं। सरकार ने वैक्सीन की बर्बादी को एक फीसदी से कम करने का लक्ष्य रखा है।

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : पिक्साबे

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

भारत सरकार ने कहा है कि टीकाकरण करने वाले व्यक्ति को सलाह दी जाती है कि हर वॉयल (शीशी) को खोलने की तारीख और समय नोट करें। सभी वैक्सीन वॉयल को खुलने के चार घंटे के अंदर उपयोग कर लेना चाहिए। इसलिए, वैक्सीन की बर्बादी एक फीसदी या उससे कम होने की उम्मीद बिल्कुल भी अनुचित नहीं है। यह तार्किक है और इसे प्राप्त किया जा सकता है।
 

राज्यों के पास 1.17 करोड़ से अधिक खुराकें अब भी उपलब्ध
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास टीके की 1.17 करोड़ से अधिक खुराकें उपलब्ध हैं जबकि अगले तीन दिन के भीतर उन्हें 38 लाख अधिक खुराकें और दी जाएंगी। अब तक राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को 25.60 करोड़ से अधिक खुराकें दी गई हैं। ये खुराकें उन्हें केंद्र की ओर से निशुल्क और राज्यों द्वारा सीधे खरीद की श्रेणी में दी गई हैं।

मंत्रालय ने बताया कि कुल 24 करोड़ 44 लाख छह हजार 96 खुराकों (बर्बाद हुए टीकों समेत) का इस्तेमाल हुआ है। उसने बताया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 रोधी टीकों की कुल एक करोड़ 17 लाख 56 हजार 911 खुराकें अब भी मौजूद हैं। इसके अलावा, अगले तीन दिन में और 38 लाख 21 हजार 170 खुराकें उन्हें उपलब्ध करवाई जाएंगी।

विस्तार

भारत सरकार ने कहा है कि टीकाकरण करने वाले व्यक्ति को सलाह दी जाती है कि हर वॉयल (शीशी) को खोलने की तारीख और समय नोट करें। सभी वैक्सीन वॉयल को खुलने के चार घंटे के अंदर उपयोग कर लेना चाहिए। इसलिए, वैक्सीन की बर्बादी एक फीसदी या उससे कम होने की उम्मीद बिल्कुल भी अनुचित नहीं है। यह तार्किक है और इसे प्राप्त किया जा सकता है।

 

राज्यों के पास 1.17 करोड़ से अधिक खुराकें अब भी उपलब्ध

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास टीके की 1.17 करोड़ से अधिक खुराकें उपलब्ध हैं जबकि अगले तीन दिन के भीतर उन्हें 38 लाख अधिक खुराकें और दी जाएंगी। अब तक राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों को 25.60 करोड़ से अधिक खुराकें दी गई हैं। ये खुराकें उन्हें केंद्र की ओर से निशुल्क और राज्यों द्वारा सीधे खरीद की श्रेणी में दी गई हैं।


मंत्रालय ने बताया कि कुल 24 करोड़ 44 लाख छह हजार 96 खुराकों (बर्बाद हुए टीकों समेत) का इस्तेमाल हुआ है। उसने बताया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 रोधी टीकों की कुल एक करोड़ 17 लाख 56 हजार 911 खुराकें अब भी मौजूद हैं। इसके अलावा, अगले तीन दिन में और 38 लाख 21 हजार 170 खुराकें उन्हें उपलब्ध करवाई जाएंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here