कैप्टन अमरिंदर सिंह ने NDTV से कहा- सिद्धू पाकिस्तान समर्थक, उन पर भरोसा नहीं किया जा सकता

0


नई दिल्ली: Punjab Congress Crisis: पंजाब के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा (Amarinder Singh Resigns:) देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने NDTV से बातचीत में नवजोत सिंह सिद्धू की जमकर आलोचना की. उन्होंने सिद्धू को विश्वास के नाकाबिल बताया. अमरिंदर सिंह से जब नवजोत सिंह सिद्धू को प्रो पाकिस्तानी बोलने के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि ”अभी नहीं, कई बार बोला है. हमारे फौजी तो रोज मर रहे हैं और यह जाता है और उनके जनरल से मिलता है. इमरान खान का भी दोस्त है. करतारपुर कॉरीडोर में ऐसी तकरीर कर रहा था जैसा मैंने कभी सुना ही नहीं. जब वह उनकी तारीफ कर रहा था तो मैं तो उठकर साइड से निकल गया था.”           

यह भी पढ़ें

पंजाब कांग्रेस के प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू को मुख्यमंत्री बनाने के सवाल पर अमरिंदर सिंह ने कहा कि ”पार्टी को चलाना मिसेज गांधी का काम है. सिद्धू को सीएम बनाने का मैं विरोध करूंगा. हमारे यहां पठानकोट से फाजिल्का 600 किलोमीटर की बॉर्डर है. मेरी बॉर्डर नेशनल बॉर्डर है. रोज वैपन आ रही हैं, सब कुछ आ रहा है और उनके साथ इसकी दोस्ती है. मैं इस पर ट्रस्ट नहीं करता.”   

अमरिंदर सिंह ने कहा कि ”आज सुबह सोनिया गांधी का फोन आया था. मैंने मिस्ड कॉल्स में देखा और फिर उनको फोन किया. मैंने उनसे कहा कि मैं इस्तीफा देने जा रहा हूं. उन्होंने सिर्फ सॉरी कहा, बस इतना ही कहा. उन्होंने रुकने के लिए नहीं कहा.” 

यह पूछने पर कि क्या आपको कांग्रेस में ह्युमिलेट किया गया, इसके पीछे क्या कोई और पॉलिटिक्स चल रही है? अमरिंदर ने कहा कि ”पता नहीं कौन चलाता है पॉलिटिक्स, मैं तो दिल्ली जाता नहीं हूं. मैं तो दिल्ली दो साल में चार बार गया हूं. दो बार गवर्नमेंट ऑफ इंडिया को मिलने, दो बार कांग्रेस प्रेसीडेंट को मिलने. मैं किसी और को नहीं मिलता.” उन्होंने कहा कि ”उनकी राहुल गांधी से मुलाकात नहीं हुई, 18 महीने में कभी नहीं मिला. न राहुल जी को मिला, न प्रियंका जी को मिला.” 

बीजेपी या अकाली दल में जाने के सवाल पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि ”लोगों को जो कहना है, कहते हैं, उसको हम रोक नहीं सकते. जो मर्जी कहें, पर मुझे भी सोचना पड़ेगा कि मैं क्या करूं. मैं अपने सथियों से बात करके ही कुछ बता सकूंगा.”

कांग्रेस में बने रहने के सवाल पर उन्होंने कहा कि ”कल की बात नहीं करता, आज ही तो इस्तीफा हुआ है. देखते चलें.” पंजाब के अगले विधानसभा चुनाव में उनकी भूमिका को लेकर सवाल पर भी उन्होंने कहा कि ”इसके लिए इंतजार करना पड़ेगा.”


Leave a Reply