• Hindi News
  • Business
  • India GDP Growth; Here’s Latest Forecast Report By Asian Development Bank

मुंबई2 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

एशिया डेवलपमेंट बैंक ADB ने वित्त वर्ष 2021-22 में भारत की GDP ग्रोथ के अनुमान को घटा दिया है। ADB ने पूर्वानुमान 11% से घटाकर 10% कर दिया है। कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कारण देश के कई हिस्सों में लॉकडाउन के चलते इकोनॉमिक ग्रोथ का अनुमान लगाया है। साथ ही ये भी कहा है कि 2022-23 तक भारत की अधिकांश आबादी का टीकाकरण हो जाएगा।

भारत सरकार ने कहा…
भारत सरकार के मुताबिक दिसंबर 2021 तक देश में सभी को कोविड-19 की वैक्सीन मिल जाएगी। लेकिन ADB के मुताबिक, ग्लोबल ऑबजर्वर्स का मानना है कि भारत दिसंबर 2021 तक तय लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाएगा।

औसत महंगाई का अनुमान बढ़ाया
बैंक ने भारत में तेल और खाद्य की कीमतों में तेजी के कारण वित्त वर्ष 2021-22 के लिए औसत महंगाई का अनुमान 5.2% से बढ़ाकर 5.5% किया है।

रिटेल महंगाई पर RBI का अनुमान
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 2021-22 के लिए रिटेल महंगाई दर 5.1% रहने का अनुमान लगाया है। रिटेल महंगाई दर मई और जून में लगभग 6.3% रही।

2022-23 में 7.5% ग्रोथ की उम्मीद
ADB ने कहा कि, कोविड-19 महामारी के दोबारा फैलने से पूरे दक्षिण एशिया में आर्थिक गतिविधियों में रुकाबट आई है। वहीं अगले वित्त वर्ष 2022-23 में भारतीय GDP ग्रोथ का अनुमान 7% से बढ़ाकर 7.5% किया है।

ADO की रिपोर्ट
एशियन डेवलपमेंट आउटलुक यानी ADO की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले वित्त वर्ष 2020-21 की अंतिम तिमाही में GDP ग्रोथ 1.6% थी जिसके चलते GDP में अनुमानित 8% की बजाय 7.3% की दर की गिरावट रही। फाइनेंशियल ईयर 2020-21 के लिए दक्षिण एशिया की ग्रोथ 9.5% से घटाकर 8.9% की गई है। भारत के लिए अनुमान 1% घटाकर 10% किया है। एशिया के लिए महंगाई का अनुमान 5.5% से बढ़ाकर 5.8% किया गया है।

ये भी घटा चुके हैं अपना अनुमान

RBI: फाइनेंशियल ईयर 2021-22 के लिए भारत की GDP ग्रोथ का अनुमान 10.5% से घटाकर 9.5% कर दिया।
SBI: चालू वित्त वर्ष 2021-22 के लिए GDP ग्रोथ रेट का अनुमान 10.4% से घटाकर 7.9% किया।
वर्ल्ड बैंक: GDP ग्रोथ अनुमान 10.1% से घटाकर 8.3% किया।
मूडीज: फाइनेंशियल ईयर 2021-22 के लिए भारत की ग्रोथ रेट का अनुमान 13.9% से घटाकर 9.6% किया।
S&P: GDP ग्रोथ का अनुमान 11% से घटाकर 9.5% किया।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here