चिप का कहर जारी है: मारुति सुजुकी अक्टूबर में 40% प्रोडक्शन में कटौती करेगी, अगस्त में भी 3 शनिवार बंद रहे थे प्लांट

1


8 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

दुनियाभर की कार कंपनियों के साथ देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी भी सेमीकंडक्टर की समस्या से जूझ रही है। नई रिपोर्ट्स के मुताबिक, अक्टूबर में सेमीकंडक्टर की कमी के चलते मारुति 40 प्रतिशत प्रोडक्शन में कटौती करेगी। यानी इस महीने उसका कुल प्रोडक्शन महज 60 प्रतिशत रहेगा। हालांकि, ये आंकड़े सितंबर 40% प्रोडक्शन से बेहतर हैं।

मारुति सुजुकी ने एक बयान में कहा कि सेमीकंडक्टर और इलेक्ट्रॉनिक्स कम्पोनेंट्स की कमी के चलते अक्टूबर 2021 में हरियाणा और कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी, सुजुकी मोटर गुजरात में होने वाले प्रोडक्शन में कटौती की जा सकती है। हालांकि, स्थिति गतिशील है, लेकिन वर्तमान में अनुमान है कि दोनों स्थानों पर कुल व्हीकल प्रोडक्शन की मात्रा सामान्य उत्पादन का लगभग 60 प्रतिशत हो सकती है।

जुलाई में सप्लाई और प्रोडक्शन बेहतर रहा
मारुति सुजुकी ने अपने नॉर्मल प्रोडक्शन के लेवल को स्पेसिफिक नहीं किया है। कंपनी और एसएमजी का जुलाई में कुल प्रोडक्शन 170,719 यूनिट रहा था। जुलाई में सप्लाई और प्रोडक्शन से जुड़ी चुनौतियां नहीं देखी गई थीं। हालांकि, एसएमजी द्वारा किए गए आंशिक शटडाउन के कारण अगस्त प्रोडक्शन कम रहा था।

अगस्त में लगातार 3 शनिवार प्लांट बंद किया
जापान की सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन की सब्सिडियरी सुजुकी मोटर गुजरात, कारों की सप्लाई मारुति सुजुकी को करती है। कंपनी ने प्‍लांट में कुछ मैन्‍युफैक्‍चरिंग लाइन पर प्रोडक्‍शन सिंगल शिफ्ट में करने का फैसला किया था। साथ ही अगस्त के तीन शनिवार (7,14 और 21 अगस्त) को प्रोडक्‍शन बंद रखा था।

SMG, जो कि सुजुकी मोटर कंपनी, जापान के स्वामित्व वाली कंपनी है, बिक्री के लिए मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड (MSIL) को स्विफ्ट और बलेनो जैसी कार प्रोडक्शन की आपूर्ति करती है। यह पहली बार है जब भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता ने चिप की कमी के चलते प्रोडक्शन का मुद्दा उठाया।

इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में यूज होते हैं सेमीकंडक्टर
सेमीकंडक्टर सिलिकॉन चिप होती है। ये गाड़ी, कंप्यूटर और सेलफोन से लेकर कई दूसरे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में इस्तेमाल होते हैं। ये बेहतर तरीके से कंट्रोल और मेमोरी फंक्शन से संबंधित काम करते हैं। कुछ महीनों से ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री में सेमीकंडक्टर का इस्तेमाल पूरी दुनिया में बढ़ा है, क्‍योंकि नए मॉडल ब्लूटूथ कनेक्टिविटी, नेविगेशन और हाइब्रिड-इलेक्ट्रिक सिस्टम जैसी इलेक्ट्रॉनिक सर्विस से लैस हैं।

खबरें और भी हैं…


Leave a Reply