26.7 C
Miami
Monday, October 18, 2021
HomeLanguageहिंदीनवरात्रि स्पेशल: खाने-पीने के ये टिप्स कंट्रोल करेंगे वजन और रखेंगे आपको...

नवरात्रि स्पेशल: खाने-पीने के ये टिप्स कंट्रोल करेंगे वजन और रखेंगे आपको एनर्जी से भरपूर


3 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

नवरात्रि के अवसर पर दैवीय साधना, अराधना और उपासना करते हुए पूरी दुनिया में करोड़ों श्रद्धालु व्रत करते हैं। व्रत यानि संयमित आहार और ऐसे खाने से खुद को दूर रखना जिसे तामसिक माना जाता है। चूंकि हम पूरे साल मनपसंद चीजें खाते रहते हैं, ऐसे में नवरात्र में क्या खाएं और क्या न खाएं ये समस्या बनी रहती है।

इस नौ दिवसीय उत्सव में खुद को फिट और एनर्जी से भरपूर रखना बेहद जरूरी है, ताकि हम त्यौहार का आनंद ले सकें और शरीर से तंदरुस्त बने रहें। नवरात्रि को लेकर कुछ जरूरी टिप्स बता रहे हैं नुट्रीशनिस्ट हिमांशु राय।

नवरात्रि के दौरान इन फूड्स को बनाएं दोस्त

12-14 ग्लास पानी हर दिन पीएं।

अपनी डाइट में पुदीना शामिल करें।

तेल, नमक और चीनी का कम सेवन करें।

लंच और डिनर के बाद 1 टेबल स्पून सौंफ लें।

खाने में सेंधा नमक और शुगर फ्री का इस्तेमाल करें।

जब भी एनर्जी की कमी महसूस हो, एक टेबल स्पून गुड खा लें।

सब्जी, पराठे में कम तेल लगे, इसलिए खाना नॉन-स्टिक बर्तनों में बनाएं।

खाना बनाने में देसी घी का इस्तेमाल करें, लेकिन इसकी क्वांटिटी का ध्यान रखें।

अपने हर मील में काली मिर्च पाउडर, दालचीनी पाउडर और भुना जीरा पाउडर जरुर शामिल करें।

नवरात्र में डाइट कंट्रोल करके वजन कम कर सकते हैं, लेकिन इस चक्कर में भूखे न रहें, न ही खाना छोड़ें।

अगर भूख लग रही हो तो ड्राई रोस्ट मखाना, खीरा, छाछ, नारियल पानी, ½ कप टोंड मिल्क, 1 सेब या 1 टी स्पून सनफ्लावर सीड में से कुछ भी ले सकती हैं।

व्रत के वक्त या उसके बाद न करें ये गलती

अगर कोई दवा लेती हैं, तो उसे जारी रखें।

व्रत के दौरान व्रत वाला प्रोसेस्ड या पैक्ड फूड खाने से परहेज करें।

व्रत के दौरान या उसके बाद खूब तला-भुना खानें से बचें।

व्रत खत्म होते ही उल्टा-सीधा जंक फूड खाने से बचें।

जो वजन घटाने के लिए करते हैं नवरात्रि का व्रत उनके लिए है ये स्टडी

अगर आप वजन घटाना चाहती हैं तो बिस्तर का रुख करें। यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो में हुए एक अध्ययन में ओवर वेट महिलाओं को यह सलाह दी गई कि अगर वे बैलेंस डाइट लेंगी, कैलरी पर कंट्रोल रखेंगी और रोज रात को आठ से साढ़े आठ घंटे की नींद लेंगी, तो दो हफ्तों के एक अंदर उन्हें वजन में थोड़ा-बहुत फर्क नजर आएगा। अध्ययनकर्ताओं ने यह पाया कि अगर आपकी नींद पूरी नहीं होती, तो आपकी बॉडी ग्रेलिंग हार्मोन ज्यादा बनाने लगती है। यह हार्मोन आपकी भूख से जुड़ा है। चुटर-पुटर खाने की आदत से बचने के लिए बेहतर होगा कि आप पूरी नींद लें।

खबरें और भी हैं…


RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

You May Like

%d bloggers like this: