एजेंसी, कोलकाता
Published by: Kuldeep Singh
Updated Wed, 05 May 2021 10:53 AM IST

सार

टीएमसी की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने आज यानी बुधवार सुबह 11:45 बजे राजभवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। इसके साथ ही दीदी तीसरी बार बंगाल की मुख्यमंत्री बन गईं। एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस महामारी के फैलाव को देखते हुए शपथ ग्रहण समारोह को बेहद सादगी से आयोजित किया गया। 

मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण करतीं ममता बनर्जी
– फोटो : ANI

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने आज यानी बुधवार सुबह 11:45 बजे राजभवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। इसके साथ ही दीदी तीसरी बार बंगाल की मुख्यमंत्री बन गईं। एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस महामारी के फैलाव को देखते हुए शपथ ग्रहण समारोह को बेहद सादगी से आयोजित किया गया। लगातार तीसरी बार मुख्यमंत्री बनीं ममता बनर्जी ने 2 मई को विधानसभा चुनावों में जीत के बाद ही शपथ ग्रहण के सादगी से आयोजन की घोषणा कर दी थी।

अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि समारोह के लिए पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य, पिछली विधानसभा में विपक्ष के नेता अब्दुल मन्नान और माकपा के वेटरन नेता बिमान बोस को निमंत्रण भेजा गया था। साथ ही पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान व बीसीसीआई के मौजूदा चेयरमैन सौरभ गांगुली को भी आमंत्रित किया गया। सुबह 10.45 बजे शुरू हुए शपथ ग्रहण समारोह के लिए कोरोना महामारी को ध्यान में रखकर किसी भी अन्य राज्य के मुख्यमंत्री या राजनेता को नहीं बुलाया गया। 

अधिकारी ने बताया कि बुधवार को टीएमसी की तरफ से महज ममता बनर्जी ही शपथ ग्रहण की है। उनकी कैबिनेट के अन्य मंत्री बाद में शपथ लेंगे। टीएमसी सूत्रों ने कहा कि समारोह में ममता के भांजे व टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी, चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और टीएमसी नेता फिरहाद हाकिम भी उपस्थित रहे। सूत्रों के मुताबिक, शपथ ग्रहण करने के तत्काल बाद ममता बनर्जी राज्य सचिवालय जाएंगी, जहां उन्हें कोलकाता पुलिस की तरफ से गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा।

विस्तार

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सुप्रीमो ममता बनर्जी ने आज यानी बुधवार सुबह 11:45 बजे राजभवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। इसके साथ ही दीदी तीसरी बार बंगाल की मुख्यमंत्री बन गईं। एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस महामारी के फैलाव को देखते हुए शपथ ग्रहण समारोह को बेहद सादगी से आयोजित किया गया। लगातार तीसरी बार मुख्यमंत्री बनीं ममता बनर्जी ने 2 मई को विधानसभा चुनावों में जीत के बाद ही शपथ ग्रहण के सादगी से आयोजन की घोषणा कर दी थी।

अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि समारोह के लिए पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य, पिछली विधानसभा में विपक्ष के नेता अब्दुल मन्नान और माकपा के वेटरन नेता बिमान बोस को निमंत्रण भेजा गया था। साथ ही पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान व बीसीसीआई के मौजूदा चेयरमैन सौरभ गांगुली को भी आमंत्रित किया गया। सुबह 10.45 बजे शुरू हुए शपथ ग्रहण समारोह के लिए कोरोना महामारी को ध्यान में रखकर किसी भी अन्य राज्य के मुख्यमंत्री या राजनेता को नहीं बुलाया गया। 

अधिकारी ने बताया कि बुधवार को टीएमसी की तरफ से महज ममता बनर्जी ही शपथ ग्रहण की है। उनकी कैबिनेट के अन्य मंत्री बाद में शपथ लेंगे। टीएमसी सूत्रों ने कहा कि समारोह में ममता के भांजे व टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी, चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और टीएमसी नेता फिरहाद हाकिम भी उपस्थित रहे। सूत्रों के मुताबिक, शपथ ग्रहण करने के तत्काल बाद ममता बनर्जी राज्य सचिवालय जाएंगी, जहां उन्हें कोलकाता पुलिस की तरफ से गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here