‘रावण’ के निधन पर ‘सीता’ दुखी: हरण कांड में बाल खींचने पर दीपिका का दर्द देख अरविंद त्रिवेदी ने मांगी थी माफी, ‘सीता’ ने कहा था- ‘रावण’ मुझे सिर्फ अशोक वाटिका नहीं बल्कि पॉलिटिक्स में भी लाए

0


  • Hindi News
  • Women
  • Seeing Deepika’s Pain For Pulling Hair In Haran Case, Arvind Trivedi Had Apologized, ‘Sita’ Had Said ‘Ravana’ Not Only Brought Me Into Ashok Vatika But Also Politics

नई दिल्ली3 दिन पहले

  • कॉपी लिंक

अरविंद त्रिवेदी का निधन

दूरदर्शन पर टेलीकास्ट ‘रामायण’ सीरियल में रावण का किरदार निभा फेम हासिल करने वाले अरविंद त्रिवेदी नहीं रहे। इस पर रामायण में सीता का रोल करने वाली दीपिका चिखलिया ने दुख जताया और ‘सीता हरण’ के सीन को याद किया।

सीता हरण सीन के लिए माफी मांगी
अरविंद त्रिवेदी के साथ काम करने के अनुभव को दीपिका चिखलिया ने शेयर किया। उन्होंने बताया कि सीता हरण वाले सीन के दौरान अरविंद त्रिवेदी उन्हें खींच रहे थे। इसकी वजह से उनके बाल भी खींच रहे थे, और इसी के चलते उन्हें यह सीन खराब लगता था। दीपिका चिखलिया ने बताया कि इस सीन को फिल्माने से अरविंद त्रिवेदी इतने दुखी थे कि मीडिया के सामने भी उन्होंने इसे जाहिर किया। जब रामायण दोबारा टेलीकास्ट किया जा रहा था, तब भी अरविंद त्रिवेदी भावुक हो गए थे।

असल में, रावण के रोल से भले ही अरविंद त्रिवेदी को शोहरत मिली, लेकिन उन्हें ‘सीता हरण’ का सीन करने का अफसोस रहा। कोरोना लॉकडाउन के दौरान जब रामायण फिर से प्रसारित हुआ तो अरविंद त्रिवेदी हर एपिसोड देखते थे। लेकिन जिस दिन उन्होंने सीता हरण का एपिसोड देखा, वो भावुक हो गए और इसे सोशल मीडिया पर जाहिर किया।

राजनीति में लेकर आए थे अरविंद त्रिवेदी-दीपिका चिखलिया

सीता का किरदार निभाने वाली दीपिका चिखलिया से उनके अच्छे रिश्ते थे। वही दीपिका को राजनीति में लेकर आए। वह यह स्वीकार करती हैं कि राजनीति में उन्हें अरविंद त्रिवेदी ही लेकर आए थे। वह बीजेपी के टिकट पर 1991 में गुजरात के बड़ौदा से लोकसभा चुनाव लड़ीं और सांसद बनीं। एक रिपोर्ट के मुताबिक अरविंद त्रिवेदी के कहने पर ही दीपिका बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी से मिलीं।

पिछले साल 8 नवंबर को दीपिका ने अरविंद त्रिवेदी को बर्थडे विश करते हुए एक इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा, ‘आपको हेल्दी लाइफ की शुभकामनाएं। आप आज भी बेस्ट रावण हैं। वह (रावण) न केवल अपहरण करके मुझे (सीता) अशोक वाटिका ले गए बल्कि उन्होंने राजनीति में आने के लिए राजी भी किया था।’

शादी के बाद राजनीति को कहा- बाय बाय
बहरहाल, दीपिका शादी के बाद राजनीति को अलविदा कह चुकी हैं। वह रामानंद सागर के टेलीविजन सीरियल रामायण में सीता की भूमिका निभाने के लिए जानी जाती हैं। उन्होंने हिंदी सिनेमा में भी काम किया। सुन मेरी लैला (1983) से दीपिका ने अपने करियर की शुरुआत की थी। राजेश खन्ना के साथ ‘रुपया दस करोड़’ में काम किया। इसके अलावा ‘घर के चिराग’ और ‘खुदाई’ में भी काम किया।

सरोजनी नायडू की बायोपिक में आएंगी नजर
फिलहाल वर्किंग फ्रंट की बात करें तो चिखलिया को कलर्स के गुजराती चैनल पर टीवी सीरियल चुट्टा छेड़ा (2017) में भी देखा गया। गुजराती फिल्म नटसम्राट अगस्त 2018 में रिलीज हुई थी। उन्हें आखिरी बार फिल्म बाला (नवंबर 2019) में परी (यामी गौतम) की मां के रूप में देखा गया। वह स्वतंत्रता सेनानी सरोजिनी नायडू की बायोपिक में भी नजर आने वाली हैं। वह सरोजनी नायडू के रोल में नजर आने वाली हैं।

खबरें और भी हैं…


Leave a Reply