26.2 C
Miami
Monday, October 18, 2021
HomeLanguageहिंदीवॉट्सऐप का बड़ा एक्शन: भारत में 20 लाख अकाउंट्स बंद किए, स्पैम...

वॉट्सऐप का बड़ा एक्शन: भारत में 20 लाख अकाउंट्स बंद किए, स्पैम और अनचाहे मैसेजेस रोकने के लिए उठाया कदम

मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप ने अगस्त में भारत में 20 लाख से भी ज्यादा यूजर्स के अकाउंट बंद किए हैं। यह कार्रवाई भारत के आईटी नियमों और वॉट्सऐप की सेवा शर्तों का उल्लंघन करने वाले अकाउंट्स के खिलाफ की गई है। मंगलवार को जारी की गई वॉट्सऐप की मंथली कंप्लायंस रिपोर्ट से यह जानकारी सामने आई है।

46 दिन के भीतर बंद किए थे 3 लाख अकाउंट्स
वॉट्सऐप ने भारत में 16 जून से 31 जुलाई तक 3 लाख अकाउंट्स को बंद किया था। यह कार्रवाई 594 शिकायतों के आधार पर की गई थी। दुनियाभर में दुरुपयोग के मामलों पर वॉट्सऐप औसतन हर महीने 80 लाख अकाउंट्स को बैन करता है।

शिकायत के आधार पर हुई कार्रवाई
बिना अनुमति के ऑटोमैटेड या बल्क मैसेजेस भेजे जाने की वजह से 20 लाख 70 हजार अकाउंट पर बैन लगाया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगस्त के दौरान वॉट्सऐप को 420 शिकायतें मिली थीं। इसमें अकाउंट सपोर्ट की 105, बैन अपील की 222, प्रोडक्ट सपोर्ट की 42, सिक्योरिटी की 17 और दूसरे सपोर्ट की 34 शिकायतें शामिल थीं।

दुरुपयोग रोकने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल
वॉट्सऐप के प्रवक्ता ने बताया कि यूजर सिक्योरिटी रिपोर्ट में शिकायतों की जानकारी दी गई है। प्लेटफॉर्म के दुरुपयोग को रोकने के लिए वॉट्सऐप अपनी कार्रवाई जारी रखेगा। हमारा ध्यान प्लेटफॉर्म पर स्पैम और अनचाहे मैसेजेस को रोकने पर है।

वॉट्सऐप ने अपने सपोर्ट पेज में बताया है कि वह शिकायत चैनल के माध्यम से यूजर की शिकायतें दर्ज करता है। मैसेजिंग ऐप प्लेटफॉर्म पर हार्मफुल बिहेवियर को रोकने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस टूल्स और रिसोर्सेस का इस्तेमाल करता है।

नए आईटी नियमों के मुताबिक हर महीने रिपोर्ट पब्लिश करना जरूरी
भारत सरकार ने 26 मई को नए आईटी नियम लागू किए थे। इन नियमों के मुताबिक 50 लाख से अधिक यूजर वाले किसी भी डिजिटल प्लेटफॉर्म को हर महीने कंप्लायंस रिपोर्ट पब्लिश करना जरूरी है। इस रिपोर्ट में मिली शिकायतों और उनके आधार पर हुई कार्रवाई की जानकारी देनी होगी।

यूजर की जानकारी नहीं पढ़ता वॉट्सऐप
वॉट्सऐप ने इस बात पर जोर दिया है कि वह किसी भी यूजर के मैसेज को नहीं पढ़ता। यह एक एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड प्लेटफॉर्म है। इसमें यूजर की जानकारी सुरक्षित है। प्लेटफॉर्म कार्रवाई के लिए उपलब्ध अन-एन्क्रिप्टेड जानकारी पर निर्भर करता है। इनमें यूजर रिपोर्ट, प्रोफाइल फोटो, ग्रुप फोटो और ग्रुप डिस्क्रिप्शन शामिल है।

खबरें और भी हैं…


RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

You May Like

%d bloggers like this: