न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भिवानी (हरियाणा)
Published by: निवेदिता वर्मा
Updated Fri, 11 Jun 2021 02:57 PM IST

सार

इस बार 10वीं कक्षा में कुल 318373 बच्चों ने आवेदन किया था। आवेदन करने वाले 11628 बच्चे ऐसे थे, जिनकी कंपार्टमेंट थी। इन सभी को बोर्ड ने पास करके प्रमोट कर दिया है।विद्यार्थी https://bseh.org.in पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं। 

हरियाणा स्कूल शिक्षा बोर्ड।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने शुक्रवार दोपहर ढाई बजे 10वीं कक्षा का परिणाम जारी कर दिया। इस बार कोई भी टॉपर घोषित नहीं किया गया है और न ही कोई विद्यार्थी फेल हुआ है। परिणाम स्कूलों द्वारा दी गई इंटरनल असेसमेंट के आधार पर दिया गया। वहीं ओपन और प्राइवेट से आवेदन करने वाले बच्चों का परिणाम होल्ड कर लिया गया है। इसके अलावा उन बच्चों का परिणाम भी रोक लिया गया है, जिनके इंटरनल असेसमेंट के नंबर बोर्ड को नहीं मिले थे। विद्यार्थी https://bseh.org.in पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं। 

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सीबीएसई की तर्ज पर 10वीं कक्षा का परिणाम घोषित किया है। गुरुवार को दिनभर बोर्ड में अधिकारियों की बैठक हुई। इसके बाद देर शाम फैसला लिया गया। इस बार 10वीं कक्षा में कुल 318373 बच्चों ने आवेदन किया था। आवेदन करने वाले 11628 बच्चे ऐसे थे, जिनकी कंपार्टमेंट थी। इन सभी को बोर्ड ने पास करके प्रमोट कर दिया है। 

नंबर देने की प्रक्रिया
इस बार बच्चों को नंबर स्कूलों की इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल में मिले नंबरों के आधार पर दिए गए। 20 नंबर की इंटरनल असेसमेंट और 20 नंबर का प्रैक्टिकल रहा। इसके अलावा 60 नंबर थ्योरी के माने गए। अगर बच्चे को इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल में पूरे नंबर दे देते हैं तो उसे थ्योरी में भी पूरे ही नंबर मिलेंगे। थ्योरी के नंबर इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल के नंबरों के अनुपात पर ही आधारित रहे। 

ओपन और प्राइवेट बच्चों का रिजल्ट होल्ड होगा
जिन बच्चों ने ओपन और प्राइवेट से आवेदन किया था, उनके रिजल्ट पर गुरुवार को दिनभर असमंजस की स्थिति बनी रही। सूत्रों के अनुसार बोर्ड के आला अधिकारियों ने शाम को मीटिंग में फैसला लिया कि ओपन और प्राइवेट से आवेदन करने वाले बच्चों का रिजल्ट होल्ड किया जाएगा। इसके साथ ही उन बच्चों का रिजल्ट भी होल्ड किया जाएगा, जो प्रैक्टिकल में अनुपस्थित रहे या फिर जिनकी इंटरनल असेसमेंट नहीं मिली। ऐसे लगभग 40 बच्चे प्रदेश में हैं।

विस्तार

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने शुक्रवार दोपहर ढाई बजे 10वीं कक्षा का परिणाम जारी कर दिया। इस बार कोई भी टॉपर घोषित नहीं किया गया है और न ही कोई विद्यार्थी फेल हुआ है। परिणाम स्कूलों द्वारा दी गई इंटरनल असेसमेंट के आधार पर दिया गया। वहीं ओपन और प्राइवेट से आवेदन करने वाले बच्चों का परिणाम होल्ड कर लिया गया है। इसके अलावा उन बच्चों का परिणाम भी रोक लिया गया है, जिनके इंटरनल असेसमेंट के नंबर बोर्ड को नहीं मिले थे। विद्यार्थी https://bseh.org.in पर जाकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं। 

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सीबीएसई की तर्ज पर 10वीं कक्षा का परिणाम घोषित किया है। गुरुवार को दिनभर बोर्ड में अधिकारियों की बैठक हुई। इसके बाद देर शाम फैसला लिया गया। इस बार 10वीं कक्षा में कुल 318373 बच्चों ने आवेदन किया था। आवेदन करने वाले 11628 बच्चे ऐसे थे, जिनकी कंपार्टमेंट थी। इन सभी को बोर्ड ने पास करके प्रमोट कर दिया है। 

नंबर देने की प्रक्रिया

इस बार बच्चों को नंबर स्कूलों की इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल में मिले नंबरों के आधार पर दिए गए। 20 नंबर की इंटरनल असेसमेंट और 20 नंबर का प्रैक्टिकल रहा। इसके अलावा 60 नंबर थ्योरी के माने गए। अगर बच्चे को इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल में पूरे नंबर दे देते हैं तो उसे थ्योरी में भी पूरे ही नंबर मिलेंगे। थ्योरी के नंबर इंटरनल असेसमेंट और प्रैक्टिकल के नंबरों के अनुपात पर ही आधारित रहे। 

ओपन और प्राइवेट बच्चों का रिजल्ट होल्ड होगा

जिन बच्चों ने ओपन और प्राइवेट से आवेदन किया था, उनके रिजल्ट पर गुरुवार को दिनभर असमंजस की स्थिति बनी रही। सूत्रों के अनुसार बोर्ड के आला अधिकारियों ने शाम को मीटिंग में फैसला लिया कि ओपन और प्राइवेट से आवेदन करने वाले बच्चों का रिजल्ट होल्ड किया जाएगा। इसके साथ ही उन बच्चों का रिजल्ट भी होल्ड किया जाएगा, जो प्रैक्टिकल में अनुपस्थित रहे या फिर जिनकी इंटरनल असेसमेंट नहीं मिली। ऐसे लगभग 40 बच्चे प्रदेश में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here