• Hindi Information
  • Enterprise
  • Eicher Motors This autumn Web Revenue Rises 18% To Rs 1070 Crore, Royal Enfield Gross sales Hit Report Excessive

मुंबई4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

रॉयल एनफील्ड बनाने वाली कंपनी आयशर मोटर्स लिमिटेड का वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही (जनवरी-मार्च) में मुनाफा सालाना आधार (YoY) पर 18.20% बढ़कर ₹1,070 करोड़ रहा। कंपनी ने किसी भी तिमाही में ये अब तक का रिकॉर्ड मुनाफा दर्ज किया है।

एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी का कॉन्सोलिडेटेड नेट प्रॉफिट यानी शुद्ध मुनाफा ₹906 करोड़ रहा था। आयशर मोटर्स ने आज यानी 11 मई को चौथी तिमाही और सालाना नतीजे जारी किए हैं।

वित्त वर्ष 2024 में मुनाफा 37% बढ़कर ₹4,001 करोड़ रहा
ऑटोमोबाईल कंपनी का वित्त वर्ष 2024 में कॉन्सोलिडेटेड मुनाफा 37.30% बढ़कर ₹4,001 करोड़ हो गया है। वित्त वर्ष 2023 में मुनाफा ₹2,914 करोड़ रहा था। कंपनी ने किसी पूरे वित्त वर्ष में भी ये अब तक का रिकॉर्ड मुनाफा दर्ज किया है।

आयशर मोटर्स ₹51 प्रति शेयर का डिविडेंड देगी रिजल्ट के साथ ही कंपनी ने वित्त वर्ष 2024 के लिए ₹51 के फाइनल डिविडेंड यानी लाभांश का भी ऐलान किया है। कंपनियां अपने शेयरधारकों को मुनाफे का कुछ हिस्सा देती हैं, उसे डिविडेंड कहते हैं।

चौथी तिमाही में रेवेन्यू ₹4,256 करोड़ रहा
कंपनी ने कॉन्सोलिडेटेड रेवेन्यू यानी आय में सालाना आधार पर 11.87% की बढ़ोतरी दर्ज की है। FY24 की चौथी तिमाही में रेवेन्यू ₹4,256 करोड़ रहा। ये कंपनी का लगातार पिछली आठ तिमाही में सबसे ज्यादा रेवेन्यू का रिकॉर्ड भी है। एक साल पहले की समान तिमाही यानी FY23 की चौथी तिमाही में रेवेन्यू ₹3,804 करोड़ रहा था।

सालाना रेवेन्यू रिकॉर्ड ₹16,536 करोड़ पहुंचा
आयशर मोटर्स का पूरे साल (2023-2024) का रेवेन्यू बढ़कर ₹16,536 करोड़ पहुंच गया है। ये कंपनी का अब तक का हाईएस्ट रेवेन्यू है। वित्त वर्ष 2022-2023 में रेवेन्यू ₹14,442 करोड़ रहा था। यानी रेवेन्यू में 14.49% की बढ़ोतरी हुई है।

आयशर मोटर्स के प्रॉफिट बढ़ने के 3 कारण

  • सेल्स वॉल्यूम में उछाल
  • हायर एवरेज सेलिंग प्राइस (ASP)
  • नई लॉन्चिंग और कमोडिटी की लागत में नरमी

रॉयल एनफील्ड की सेल्स ने रिकॉर्ड हाई बनाया
कंपनी की रॉयल एनफील्ड की सेल्स ने भी रिकॉर्ड हाई बनाया है। वित्त वर्ष 2024 की चौथी तिमाही में कंपनी की 2.27 लाख से ज्यादा बाइक्स बिकी हैं। वहीं वित्त वर्ष 2023 की चौथी तिमाही में 2.14 लाख से ज्यादा बाइक्स बिकी थीं।

कॉन्सोलिडेटेड मुनाफा मतलब पूरे ग्रुप का प्रदर्शन
कंपनियों के रिजल्ट दो भागों में आते हैं- स्टैंडअलोन और कॉन्सोलिडेटेड। स्टैंडअलोन में केवल एक यूनिट का वित्तीय प्रदर्शन दिखाया जाता है। जबकि, कॉन्सोलिडेटेड या समेकित फाइनेंशियल रिपोर्ट में पूरी कंपनी की रिपोर्ट दी जाती है।

आयशर मोटर्स की 2 सब्सिडियरी VECV और रॉयल एनफील्ड हैं। VE कमर्शियल व्हीकल्स लिमिटेड (VECV) वोल्वो ग्रुप और आयशर मोटर्स लिमिटेड का एक जॉइंट वेंचर है। वहीं रॉयल एनफील्ड बाइकें बनाती है। इन सभी के फाइनेंशियल रिपोर्ट को मिलाकर कॉन्सोलिडेटेड कहा जाएगा।

आयशर मोटर्स के शेयर ने एक साल में 28% रिटर्न दिया
रिजल्ट आने के एक दिन पहले शुक्रवार को आयशर मोटर्स का शेयर 2.23% बढ़कर ₹4,670 पर बंद हुआ। इसके साथ ही कंपनी का मार्केट कैप भी ₹1.27 लाख करोड़ हो गया है।

बीते एक महीने में कंपनी का शेयर 8.55% बढ़ा है। वहीं पिछले छह महीने में इसका शेयर 28.11% बढ़ा है। पिछले एक साल में इसने निवेशकों को 28.78% रिटर्न दिया है।

खबरें और भी हैं…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here