न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नासिक
Published by: Tanuja Yadav
Updated Thu, 10 Jun 2021 11:56 AM IST

सार

महाराष्ट्र के नासिक से एक ऐसा मामला सामने आया है, जो मां की ममता पर कई सवाल खड़े कर रहा है। यहां एक सौतेली मां ने दस साल के अपने सौतेले बेटे का गुस्से में प्राइवेट पार्ट जला दिया।

महाराष्ट्र के नासिक में सौतेली मां ने सौतेले बच्चे का जलाया प्राइवेट पार्ट
– फोटो : सोशल मीडिया

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

महाराष्ट्र के नासिक से मां के प्रेम पर सवाल खड़े करने वाला और मन को झकझोरने वाला एक मामला सामने आया है। नासिक में एक सौतेली मां ने अपने दस साल के सौतेले बेटे का प्राइवेट पार्ट जला दिया। बता दें कि ये बच्चा दिव्यांग है और बच्चे की गलती बस इतनी थी कि उसने खेल-खेल में अपने छोटे सौतेले भाई बिस्तर से नीचे गिरा दिया था।

पति के कहने पर पुलिस ने किया गिरफ्तार
यह मामला नासिक के डिंडोरी तालुका के एक गांव का है। हालांकि आरोपी महिला को उसके पति की शिकायत के आधार पर पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। दरअसल, महिला का सौतेला दस साल का बच्चा और उसका डेढ़ साल का सौतेला भाई खेल रहे थे। खेल-खेल में सौतेले भाई ने छोटे भाई को बेड से धक्का दे दिया और बच्चा नीचे गिर गया।

गुस्से में सौतेले बच्चे का जलाया प्राइवेट पार्ट
इस घटना के बाद सौतेली मां को दस साल के बच्चे पर खूब गुस्सा आया और उसने बच्चे की जमकर पिटाई की, यहां तक कि उसका प्राइवेट पार्ट तक जला दिया। इसके बाद जब महिला का पति घर आया तो उसे इस घटना के बारे में पता चला। सूचना मिलते ही पति ने अपने बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसका इलाज अभी भी जारी है। 

बच्चे की हालत स्थिर
अतिरिक्त सिविल सर्जन किशोर ने कहा कि पीड़ित का प्राइवेट पार्ट का 20 फीसदी हिस्सा जल गया है लेकिन अभी बच्चे की हालत स्थिर है। बता दें कि आरोपी महिला के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 326 और 324 के तहत मुकदमा दायर किया गया है। इसके अलावा महिला के खिलाफ पॉक्सो एक्ट भी लगाया गया है। 

पिता ने बच्चे की मामी से की शादी
बता दें कि आरोपी महिला पहले सौतेले बच्चे की मामी थी लेकिन बच्चे के पिता ने बच्चे की सगी मां को तलाक दे दिया और बच्चे की मामी के साथ शादी कर ली। ऐसा करने के बाद बच्चे की मामी बाद में बच्चे की सौतेली मां बन गई।

विस्तार

महाराष्ट्र के नासिक से मां के प्रेम पर सवाल खड़े करने वाला और मन को झकझोरने वाला एक मामला सामने आया है। नासिक में एक सौतेली मां ने अपने दस साल के सौतेले बेटे का प्राइवेट पार्ट जला दिया। बता दें कि ये बच्चा दिव्यांग है और बच्चे की गलती बस इतनी थी कि उसने खेल-खेल में अपने छोटे सौतेले भाई बिस्तर से नीचे गिरा दिया था।

पति के कहने पर पुलिस ने किया गिरफ्तार

यह मामला नासिक के डिंडोरी तालुका के एक गांव का है। हालांकि आरोपी महिला को उसके पति की शिकायत के आधार पर पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। दरअसल, महिला का सौतेला दस साल का बच्चा और उसका डेढ़ साल का सौतेला भाई खेल रहे थे। खेल-खेल में सौतेले भाई ने छोटे भाई को बेड से धक्का दे दिया और बच्चा नीचे गिर गया।

गुस्से में सौतेले बच्चे का जलाया प्राइवेट पार्ट

इस घटना के बाद सौतेली मां को दस साल के बच्चे पर खूब गुस्सा आया और उसने बच्चे की जमकर पिटाई की, यहां तक कि उसका प्राइवेट पार्ट तक जला दिया। इसके बाद जब महिला का पति घर आया तो उसे इस घटना के बारे में पता चला। सूचना मिलते ही पति ने अपने बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसका इलाज अभी भी जारी है। 

बच्चे की हालत स्थिर

अतिरिक्त सिविल सर्जन किशोर ने कहा कि पीड़ित का प्राइवेट पार्ट का 20 फीसदी हिस्सा जल गया है लेकिन अभी बच्चे की हालत स्थिर है। बता दें कि आरोपी महिला के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 326 और 324 के तहत मुकदमा दायर किया गया है। इसके अलावा महिला के खिलाफ पॉक्सो एक्ट भी लगाया गया है। 

पिता ने बच्चे की मामी से की शादी

बता दें कि आरोपी महिला पहले सौतेले बच्चे की मामी थी लेकिन बच्चे के पिता ने बच्चे की सगी मां को तलाक दे दिया और बच्चे की मामी के साथ शादी कर ली। ऐसा करने के बाद बच्चे की मामी बाद में बच्चे की सौतेली मां बन गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here